टेक्सोनोमी का परिचय

समान जीवों का वह समूह, जो स्वयं के बीच स्वतंत्र रूप से प्रजनन कर सकते हैं, कहलाता है-