पादपो में बीजाण्डन्यास (Plant Placentation in hindi)

बीजाण्डन्यास और इसके विभिन्न प्रकार (Placentation in hindi)

 


बीजाण्डन्यास (Placentation)


अंडाशय में बीजाण्डों की व्यवस्था को बीजाण्डन्यास (Placentation) कहते है। यह निम्न प्रकार का होता है-

  1. सीमांत (Marginal)
  2. आधारीय (Basal)
  3. स्तंभीय (Axile)
  4. मुक्त अक्षीय (Free-central)
  5. भित्तीय (Parietal)
  6. परिभित्तीय (Superficial or Laminar)

सीमांत (Marginal)


इस प्रकार का बीजाण्डन्यास एकाण्डपी अंडाशय होता है। जिसमें बीजाण्ड (Placenta) अंडाशय की अधर सीवनी (ventral suture) पर पाया जाता है।
उदाहरण Leguminosae जैसे मटर, चना।

Plant Placentation in hindi Marginal बीजाण्डन्यास

 


आधारीय (Basal)


यह बहुअण्डपी, युक्ताण्डपी तथा एककोष्ठ्की अंडाशय में पाया जाता है। इसमें बीजाण्ड (Placenta) अंडाशय के आधारी भाग पर लगे रहते है।
उदाहरण Compositae जैसे सूर्यमुखी तथा मेरीगोल्ड।

Plant Placentation in hindi Basal

 

 


स्तंभीय  (Axile)


द्विअण्डपी या बहुअण्डपी, युक्ताण्डपी अंडाशय में आभासी स्तंभ या अक्ष होता है। जिस पर बीजाण्ड (Placenta) लगे रहते है। इनमें कोष्ठों की संख्या अण्डप की संख्या के बराबर होती है। किन्तु कभी कभी कूट पट बन जाने के कारण कोष्ठों की संख्या अधिक हो सकती है।
उदाहरण – Solanaceae जैसे आलू धतुरा तथा Malvaceae जैसे गुडहल, कपास, भिंडी।

Plant Placentation in hindi AXile


मुक्त अक्षीय या मुक्त स्तंभीय (Free-central)


यह बहुअण्डपी, युक्ताण्डपी तथा एककोष्ठ्की अंडाशय में पाया जाता है। इसमें बीजाण्ड (Placenta) अंडाशय के मध्य में केन्द्रीय अक्ष पर लगे रहते है।
उदाहरण – Primulaceae जैसे प्रिमरोज।

Plant Placentation in hindi free central


भित्तीय (Parietal)


यह द्विअण्डपी या बहुअण्डपी, युक्ताण्डपी तथा एककोष्ठ्की अंडाशय में पाया जाता है। इसमें बीजाण्ड (Placenta) अंडाशय की परिधि पर अण्डपो के संधि स्थलों पर लगे रहते है।
उदाहरण – Cruciferae जैसे सरसों, मूली, Papaveraceae जैसे अफीम।

Plant Placentation in hindi parietal बीजाण्डन्यास


परिभित्तीय (Superficial or Laminar)


यह बहुअण्डपी, युक्ताण्डपी तथा बहुकोष्ठ्की अंडाशय में पाया जाता है। इसमें बीजाण्ड (Placenta) बहुकोष्ठ्की अंडाशय के पटो पर विकसित होता है। यह स्तंभीय के समान ही होता है। लेकिन अंडाशय बहुकोष्ठ्की होता है।
उदाहरण- Nymphaea जैसे कमल, वाटरलिली।

बीजाण्डन्यास


बीजाण्डन्यास (Placentation in hindi) सीमांत (Marginal) आधारीय (Basal) स्तंभीय (Axile) मुक्त अक्षीय (Free-central) भित्तीय (Parietal) परिभित्तीय (Superficial or Laminar)

इन्हें भी पढ़ें

  1. विभिन्न प्रकार के पुष्पक्रम (Different Types of Inflorescence Hindi)
  2. पुष्पीय पादपो में लैंगिक जनन
  3. लघुबीजाणुजनन तथा परागकण
  4. गुरुबीजाणुजनन एवं भूर्णकोष
  5. मूल/ जड़- बाह्य आकारिकी, रूपांतरण तथा कार्य मूल तंत्र (Root Morphology)
  6. तना – बाह्य आकारिकी, प्रकार एवं रूपांतरण
  7. पत्ती की संरचना, प्रकार एवं रूपान्तरण | Morphology of Leaf
  8. विभिन्न प्रकार के पुष्पक्रम (Different Types of Inflorescence Hindi)
  9. पुष्प शारीरिक एवं आकरिकी (Flower anatomy and morphology)
  10. फल एवं इसके प्रकार (FRUITS AND THEIR TYPES)

 

बाहरी कड़ियां

ऑनलाइन लेक्चर वीडियो


यदि आपको  बीजाण्डन्यास (Placentation in hindi) लेख पसंद आया हो और आप चाहते है की हम ऐसे ओर भी पोस्ट हिंदी में डाले तो आप इस पोस्ट को अपने facebook पर share करना ना भूले। आपका एक share हमारे लिए तथा अन्य Biology Lovers के लिए फायदेमंद हो सकता है।


सीमांत (Marginal) आधारीय (Basal) स्तंभीय (Axile) मुक्त अक्षीय (Free-central) भित्तीय (Parietal) परिभित्तीय (Superficial or Laminar)

Hamid Ali
1 Comment
  1. […] के बाद  बिजाण्ड (OVULE) से होता हैं। बिजाण्ड का बीजावरण (SEED COAT) फलभित्ती के पास होता […]

Leave a reply

Aliscience
Logo
Enable registration in settings - general
Compare items
  • Total (0)
Compare
0
Shopping cart