हैलाइड की परिभाषा एवं प्रकार

हैलाइड की परिभाषा (Definition of halide)

जब हाइड्रोकार्बन में एक या एक से अधिक हाइड्रोजन परमाणु को हैलोजन परमाणु प्रतिस्थापित करते है तो प्राप्त यौगिक हैलोजन व्युत्पन्न (Halogen derivative) या हैलाइड कहलाते है। जैसेCH3Cl, CH2Cl2, CHCl3, CCl4 आदि।

हैलोजन व्युत्पन्न (Halogen derivative) चार प्रकार के होते हैं-

  1. एल्किलहैलाइड
  2. एरिलहैलाइड
  3. एल्किनिलहैलाइड
  4. एरेल्किलहैलाइड

एल्किल हैलाइड या हैलोएल्केन (Alkyl halide or haloalkane)

एलीफेटिक हाइड्रोकार्बन यौगिक (Aliphatic Hydrocarbon Compounds) में हाइड्रोजन परमाणु के स्थान पर हैलोजन परमाणु आता है, तो उन्हें एल्किलहैलाइड या हैलोएल्केन यौगिक कहते है।

ये एल्केन के हैलोजन व्युत्पन्न होते है। इनका सामान्य सूत्र CnH2n+1X होता है।

जैसे : RH → R-X

R एल्किल समूह तथा X हैलोजन है।

CH3CH2Cl, CH3CH2CH2Cl, CH3CHClCH3

एरिलहैलाइड या बेन्जिलिक हैलाइड (Arylhydide or benzylic halide)

एरोमेटिक हाइड्रोकार्बन यौगिक (Aromatic hydrocarbon compounds) में हाइड्रोजन परमाणु के स्थान पर हैलोजन परमाणु आता है, तो उन्हें एरिल हैलाइड या हैलोएरीन कहते है।

जैसे Ar-X यहाँ Ar का एरोमेटिक वलय तथा X हैलोजन है।

C6H5Cl

एल्किनिल हैलाइड (Alkynyl halide)

असंतृप्त हाइड्रोकार्बन यौगिक (Unsaturated hydrocarbon compounds) में हाइड्रोजन परमाणु के स्थान पर हैलोजन परमाणु आता है तो उन्हें एल्किनिल हैलाइड कहते है।

जैसे

CH2=CH-Cl, CH2=CH-CH2-Cl

यदि एल्किनिल हैलाइड में हैलोजन परमाणु द्विआबंध वाले कार्बन परमाणु (C= C) से जुड़ा होता है तो उसे वाइनिलिक हैलाइड (Vinyl halide) कहते है। इनका सूत्र CH2=CH-X होता है जैसे CH2=CH-Cl

यदि एल्किनिल हैलाइड में हैलोजन परमाणु द्विआबंध वाले कार्बन परमाणु (C= C) कार्बन के निकटवर्ती कार्बन से जुड़ा होता है तो उसे एलिलिक हैलाइड (Allelic halide) कहते है।

जैसे CH2=CH-CH2-Cl

 

एरेल्किल हैलाइड (Arealkyl halide)

एरोमेटिक हाइड्रोकार्बन यौगिक एरोमेटिक वलय की पार्श्व शाखा (Side chain) से हैलोजन परमाणु जुड़ा रहता है, तो उन्हें एरेल्किल है लाइड (Arealkyl halide) कहते है।

Ar-CH2-X यहाँ Ar का एरोमेटिक वलय तथा X हैलोजन है।

C6H5-CH2-Cl

 

हैलोजन का वर्गीकरण (Classification of halogen)

हैलोजन परमाणु की संख्या (Number of atoms) के आधार पर निम्नप्रकार वर्गीकृत करते है–

मोनोहैलाइड (Mono halide)

  • हैलोजन की संख्या एक
  • जैसे CH3Cl (मेथिलक्लोराइड)

कार्बन परमाणु के आधार पर इन्हे 10 , 20 , 30 हैलाइड के नाम से भी जाना जाता है।

 

डाईहैलाइड (Dihalide)

  • हैलोजन की संख्या दो
  • जैसे CH2Cl2 (मेथिलिनक्लोराइड)
  • डाईहैलाइड दो प्रकार के होते है-

विसडाईहैलाइड (Vicinal Dihalide)

इस प्रकार के डाईहैलाइड में पास स्थित दो अलग-अलग कार्बन परमाणुओं पर दो हैलोजन जुड़े होते है।

  • एथिलीन डाईहैलाइड
  • प्रोपिलीन डाईहैलाइड

जैम डाईहैलाइड (Geminal Dihalide)

इस प्रकार के डाईहैलाइड में एक ही कार्बन परमाणु पर दो हैलोजन (Halogen) जुड़े होते है।

जैसे मेथिलीन क्लोराइड, एथिलिडीन क्लोराइड

α,ω डाईहैलाइड (Alpha Omega Dihalide)

इस प्रकार के डाईहैलाइड (Dihalide )में प्रथम कार्बन (α) तथा अंतिम कार्बन (ω) परमाणु से दो हैलोजन जुड़े होते है

जैसे α,ω डाई क्लोरोब्यूटेन

 

ट्राई हैलाइड (Tri halide)

  • हैलोजन की संख्या तीन
  • जैसे CHCl3 (क्लोरोफॉर्म)

टेट्राहैलाइड (Tetra halide)

  • हैलोजन (Halogen) की संख्या चार
  • जैसे CCl4 (कार्बन टेट्रा क्लोराइड)

 

इन्हें भी पढ़े

बाहरी कड़ियाँ

ऑनलाइन टेस्ट

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

Aliscience
Logo
Enable registration in settings - general
Compare items
  • Total (0)
Compare
0
Shopping cart